Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

राजस्थान REET BSTC B.ed विवाद पर बड़ा फैसला

राजस्थान REET BSTC B.ed विवाद पर बड़ा फैसला: राजस्थान में रीट के लिए बीएड अभ्यर्थियों को सुप्रीम कोर्ट से भी राहत नहीं मिल पाई है । शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने भारत सरकार की ओर से एनसीटीई ( नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन ) को नोटिस जारी कर इस पूरे मामले पर जवाब मांगा है । अब 9 फरवरी तक होने वाले रीट के आवेदन में बीएड की योग्यता रखने वाले 9 लाख अभ्यर्थी शामिल नहीं हो सकेंगे । अगली सुनवाई 22 फरवरी को होगी । राजस्थान में रीट के लेवल वन में बीएड धारियों को शामिल करने के खिलाफ बेसिक स्कूल टीचिंग कोर्स अभ्यर्थियों ने 2 महीने तक आंदोलन किया था । इसके बाद यह मामला राजस्थान हाईकोर्ट में पहुंचा था । जहां हाईकोर्ट ने BSTC अभ्यर्थियों के पक्ष में फैसला सुनाते हुए बीएड अभ्यर्थियों को लेवल -1 से बाहर कर दिया था ।

इसके बाद एनसीटीई ने बीएड अभ्यर्थियों के समर्थन सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी । एनसीटीई ने साल 2018 में एक नोटिफिकेशन जारी कर बीएड डिग्रीधारकों को भी रीट लेवल प्रथम के लिए योग्य माना था । एनसीटीई ने यह भी कहा था कि अगर बीएड डिग्रीधारी लेवल -1 में पास होते हैं , तो उन्हें नियुक्ति के साथ 6 माह का ब्रिज कोर्स करना होगा । एनसीटीई के इस नोटिफिकेशन को राजस्थान हाईकोर्ट में चुनौती दी गई । बीएड डिग्रीधारियों ने भी खुद को रीट लेवल प्रथम में शामिल करने को लेकर याचिका लगाई । इस पर फैसला नहीं हो पाया । राजस्थान सरकार ने रीट 2021 का नोटिफिकेशन जारी किया , तो उसमें बीएड डिग्रीधारी अभ्यर्थियों को इस शर्त के साथ परीक्षा में बैठने दिया कि आखिरी फैसला हाईकोर्ट के निर्णय के अधीन रहेगा ।

Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

Leave a Comment

Join WhatsAppJoin Telegram