Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

Rajasthan OBC EWS MBC SC ST Certificate Rule । राजस्थान में एससी, एसटी, ओबीसी, एमबीसी, ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र लेकर नए नियम

Rajasthan OBC EWS MBC SC ST Certificate Rule । राजस्थान में एससी, एसटी, ओबीसी, एमबीसी, ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र लेकर नए नियम: राजस्थान सरकार द्वारा प्रदेश की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में OBC EWS MBC SC ST आरक्षण प्रमाण पत्र को लेकर कार्मिक विभाग द्वारा नए नियम जारी किये है। विभाग द्वारा बनाए गए नए नियमों के अनुसार आवेदन की अंतिम तिथि के पश्चात जारी किये गए प्रमाण पत्र पर आरक्षण का लाभ नही मिलेगा । आपको बता दें कि अब आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों की पात्रता का मूल्यांकन आवेदन की अंतिम तिथि तक जारी प्रमाण पत्र के आधार पर ही किया जाएगा । अंतिम तिथि के पश्चात जारी प्रमाण पत्र पर अब अभ्यर्थियों को संबंधित श्रेणी अथवा वर्ग का लाभ नहीं मिलेगा ।

Rajasthan OBC EWS MBC SC ST Certificate Rule

राजस्थान में विभिन्न आरक्षित वर्ग को लेकर मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कार्मिक विभाग जारी किए जाने वाले सभी विभागों को परिपत्र को लेकर मंजूरी दे दी है । उल्लेखनीय है कि केंद्र एवं राज्य के अधीन पदों की भर्तियों में आरक्षण का लाभ प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थियों द्वारा संबंधित श्रेणी का प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया जाता है , जिसके आधार पर अभ्यर्थी को आरक्षण का लाभ दिया जाता हैं । भर्ती प्रक्रिया में उठ रहे विवाद को लेकर यह निर्णय लिया गया है।

Rajasthan OBC EWS MBC SC ST Certificate Rule

The Chief Minister Shri Ashok Gehlot has approved the circular to be issued by the Personnel Department to all the departments in this regard. It is noteworthy that in order to get the benefit of reservation in the recruitment of posts under the Central and State, the certificate of the respective category is presented by the candidates, on the basis of which the eligibility of the category of the candidate is evaluated.

It is necessary for the candidate to have a certificate issued by the competent authority till the last date of application, but in some cases, after the last date of application by the recruiting agencies after the last date, after the last date of application, the candidates can take advantage of it after giving opportunity to the candidates for error correction after the last date. Issued certificates are presented, due to which the situation of dispute arises.

In such a situation, all the departments will be directed by the Personnel Department by issuing this circular that the benefit of the respective category / category should not be given to the candidates who produce the certificates issued after the last date of application.

Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

Leave a Comment

Join WhatsAppJoin Telegram